Letter Type

  • Photo of तिलिस्म-ए-झूठ

    तिलिस्म-ए-झूठ

    तिलिस्म-ए-झूठ, रचा मेरे आस-पास। पास है मेरी दोस्त, जान-ए-बहार की आस। आस है उसकी, जिसकी परछाई भी न पास। परछाई…

    Read More »
  • Photo of नक्शा

    नक्शा

    तुमने प्रेम में चलते हुए, बना दिया है एक नक्शा, जो विस्तृत है शून्य तक, जिसके ओर और छोर न…

    Read More »
  • Photo of बैग के नाम पत्र

    बैग के नाम पत्र

    मेरे प्रिय बैग, क्षमा ‌करना हमारी दोस्ती यारी इतनी तक ही। हमारे ६ सालों की यारी अब यहीं समाप्त हो…

    Read More »
Back to top button
Close
Close